एम वी जी बिल्डर्स एण्ड डेवलपर्स प्राइवेट लिमिटेड

about

Brham Lok, Phase II

  • च©महा कसवा के नजदीक यह प्र¨जेक्ट। यहाॅ पर सरकारी हस्पताल, बैंक,स्कुल एवं काॅलेज इत्यादि। प्रसिद्ध जी.एल.ए. यूनिवर्सिटी के नजदीक ढेड़ किल¨मिटार की दुरी पर विश्व का अद्भुत् राधा-कृष्ण जी का दिव्य स्वर्ण मंदिर बनने जा रहा है।




about



Shree Krishna Dham

  • श्री कृष्णा धाम 100 बीघा की कालोनी है, जिसमें 50ए 100ए 150ए 200 वर्ग गज के प्लाॅट है। लोगों की सुविधानुसार मार्किट भी है। श्री कृष्णा धाम में 25 फीट और 20 फीट चैड़ी व बड़ी सड़कें व सड़कों पर बिजली के खंबे और पानी की समुचित व्यवस्था रहेगीै मंदिर के लिए जमीन आरक्षित की गयी है।
    श्री कृष्णा धाम भगवान श्री कृष्ण की चैरासी कोस परिक्रमा के बीचों बीच आती है। इसके पूर्व में बांके बिहारी मंदिर आदि प्रसिद्ध मंदिर व पश्चिम में शनिधाम, नदगाॅव, बरसाना आदि पवित्रा स्थल व उत्तर से 108 एकड़ भूमि पर 5 लाख करोड़ रूपये में बनेगा श्री राधा कृष्ण का दिव्य स्वर्ग मंदिर व दक्षिण में गोवर्धन राधाकुण्ड, रंगीली महल जैसे बड़े व पवित्रा धार्मिक स्थल आते है। यातायात सुविधा-6 कि.मी. की दूरी पर आझई रेलवे स्टेशन है, 12 कि.मी. की दूरी पर छाता रेलवे स्टेशन है, 6 कि.मी. की दूरी पर एन.एच..2 अकबरपुर है।


about

Shee Vrindavan Dham

  • श्री वृंदावन धाम 100 बीघा की काॅलानी है। जिसमें 100, 200, 250, 500 एवम् 1000 गज तक के प्लाट व फार्म हाऊस है।
    वृदावन धाम में 40 फीट और 30 फीट एवम् 20 फीट चैड़ी पक्की व बड़ी सड़के है। सड़को पर बिजली के खंबे और पानी की
    समुचित व्यवस्था है। मंदिर के लिए जमीन आरक्षित की गयी है।
    ईको-फ्रेन्डली वातावरण पार्क व खुले मैदान, रेलवे व सड़क यातायात से जुड़ा, अन्य सुविधाओं के लिए आरक्षित स्थान, दुकानें एवम् फार्म हाऊस भी उपलब्ध है।
    नाॅलेज पार्क- श्री जी बाबा लाॅ काॅलेज, जी.एल.ए. यूनिवर्सिटी, श्री धनवंतरी आयुर्वेदिक मेडिकल काॅलेज एण्ड रिसर्च सेन्टर, संस्कृति यूनिवर्सिटी, 2000 बेड का के. डी. मेडिकल हास्पिटल एवं रिसर्च सेंटर आदि वृदावन धाम के नजदीक प्रसिद्ध काॅलेज व यूनिवर्सिटी है।
    यातायात सुविधा-0 कि.मी. की दूरी पर एन.एच.-2 है, 1 कि.मी. पर छाता रेलवे स्टेशन है और लगभग 30 कि.मी. की दूरी पर जेवर एयरपोर्ट भी है।




मथुरा, आने वाले भविष्य में

 
केन्द्र सरकार ने मथुरा को एन.सी.आर. में जोड़ दिया है, जिसके फलस्वरूप एन.एच.-2 को 4 लेन से बढ़ाकर 8 लेन में कर दिया है।
केन्द्र सरकार ने मथुरा को हैरिटेज सिटी भी घोषित कर दिया है। जिसके फलस्वरूप आने वाले समय में मथुरा-वृंदावन हैरिटेज सिटी की प्राॅपर्टी के दाम बढें़गें।
छाता तहसील के साथ ही गोवर्धन में तहसील बनाई जा चुकी है।
दिल्ली से लेकर आगरा तक 126 रेलवे फाटको पर नाॅन-स्टाॅप फ्लाईओवर बनाये जा रहे है।
मथुरा वृंदावन को फिर से श्री कृष्णा जी यादों से विकसित करने का काम जोर-शोर से चल रहा है।

                                                पर्यअन

 
पर्यटन की दृष्टि से मथुरा वृंदावन का डेवलपमेंट काफी तेजी से चल रहा है।
मथुरा वृंदावन में विश्व का सबसे ऊँचा चंद्रोदय मंदिर बनाया जा रहा है। जिसकी ऊँचाई 213 मीटर (70 मंजिल) की होगी। जिसके मुख्य हाॅल में 5000 श्रद्धालु एक साथ पूजा कर सकेंगे।
चंद्रोदय मंदिर में कृष्ण जी की सभी लीलाएँ 4-डी इफेक्ट में दिखाई जायेंगी। हर मंजिल पर व्यइंग गैलरी बनाई जायेंगी। कृष्ण मंदिर में लीला पार्क, कृष्ण हैरिटेज म्यूजियम, कृष्ण आवास व कृष्ण कुटीर बनाये जा रहे है।
चैरासी कोस की परिक्रमा मोनो रेल से कराई जायेगी।
ब्रज के लिए विश्व बैंक ने 889/- करोड रूपये ़ दिए हंै। धार्मिक नजरिये से ब्रज तीनों लोकों में न्यारा है, अब पर्यटक श्रद्धालुओं की सुविधाओं के लिहाज से भी ये दुनिया भर में न्यारा होने वाला है।